बदमाशों ने बेजुबान के शरीर में दाग दीं 74 गोलियां, ऑपरेशन दौरान रो पड़े डॉक्टर

8-15अकसर इंसान अपने पल भर के मजे के लिए बेजुबानों का शिकार करता आ रहे हैं। कई ऐसे किस्से देखने को मिलते हैं जब लोगों द्वारा जानवरों को तंग या परेशान किया जाता है और तो और कई बार उन्हें मौत के घाट भी उतार दिया जाता है। इस बार भी ऐसा ही एक किस्सा सामने आया जब ओरांगओटांग बंदरों की क प्रजाति को बड़ी क्रूरता के साथ मार दिया गया।
मामला इंडोनेशिया के आकेह में स्थित एक जंगल का है। 9 मार्च को बदमाशों के एक गिरोह ने जंगल में घुसने के बाद गोलियां दागनी शुरू कर दीं जिससे होप नामक मादा ओरांगओटांग गंभीर घायल हो गईं। उसके शरीर पर कुल 74 गोलियां लगीं व जमीन पर गिरकर वह दर्द के मारे छटपटाने लगी।
हादसे में होप के आंखों की रोशनी भी चली गई। गर्मी, धूप और बिना पानी और भोजन के वह एक ही जगह पर गिरी पड़ी रही। पास में होप का बच्चा जिसकी उम्र एक माह से ज्यादा नहीं है वह भी अपनी मां के पास घायल पड़ा रहा। वनकर्मी जब जंगल की सैर पर निकले तो उनकी नजर इन दोनों पर पड़ी। होप और उसके शिशु को तुरंत उत्तर सुमात्रा के पशु पुनर्वसन केंद्र में लाया गया हालांकि तब तक देर हो चुकी थी क्योंकि तब तक बच्चे की मौत हो चुकी थी।
होप हालांकि जीवित है। डॉक्टरों ने जब उसका एक्स-रे करा कर देखा तो नकी आंखों में भी आंसू आ गए क्योंकि उसकी बाई आंख में 4 और दाई आंख में 2 गोली लगी हैं। आपरेशन थिएटर पर सभी हैरान थे। इसके साथ ही पूरे शरीर में कुल 74 गोलियां फंसी हुई थी। होप के आंखों की रोशनी चली गई है और अब डॉक्टर सर्जरी के माध्यम से उसे दोबारा ठीक करने की कोशिश कर रहे हैं। इधर पुलिस उस बदमाश गिरोह के तलाश में जुटी हुई है।

Check Also

सभी जिलों में सप्ताह में एक दिन हो सकता है पूर्ण लाकडाउन

मास्क लगाने एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग का हो कड़ाई से पालन सीमावर्ती जिलों को करें एडवाइजरी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)