कोरोना संकट में सीमित संसाधनों में भी डॉक्टरों ने किया शानदार कार्य – कमिश्नर

कमिश्नर ने डॉक्टर्स डे पर डॉक्टरों को किया सम्मानित

डॉक्टरों की सेवा और उपचार से मानव जाति का अस्तित्व बचा है – कलेक्टर

रीवा । श्यामशाह मेडिकल कालेज में डॉक्टर्स डे पर आयोजित समारोह में रीवा संभाग के कमिश्नर श्री राजेश कुमार जैन ने डॉक्टरों को सम्मानित किया। इस अवसर पर कमिश्नर श्री जैन ने कहा कि उपचार करना हमेशा से विशिष्ट कार्य और सबसे सम्मानजनक सेवा रहा है। आज भी समाज में डॉक्टरों का सर्वाधिक सम्मान है। रीवा संभाग में कोरोना संकट के समय सीमित संसाधनों के बावजूद सभी डॉक्टरों ने शानदार कार्य किया जिसके कारण प्रदेश में वर्तमान में कोरोना संक्रमण के सबसे कम प्रकरण रीवा संभाग में हैं। यहां कोरोना को सीमित रखने में भी प्रशासन के साथ-साथ डॉक्टरों के प्रयास कारगर रहे। रीवा संभाग में कोरोना से मृत्यु की भी कुछ ही घटनायें हुईं।
कमिश्नर श्री जैन ने कहा कि परिस्थिति चाहे जैसी हो हर डॉक्टर रोगी को बचाने का पूरा प्रयास करता है। इसीलिए हर रोगी भगवान के बाद डॉक्टर पर ही भरोसा रखता है। डॉक्टर्स दिवस बंगाल के दूसरे मुख्यमंत्री डॉक्टर विधानचन्द्र राय के जन्मदिवस पर मनाया जा रहा है। वे बंगाल के 15 वर्षों तक सफल मुख्यमंत्री रहे। मुख्यमंत्री रहते हुए भी उन्होंने रोगियों का उपचार हमेशा जारी रखा। उनकी सेवा और समर्पण की भावना हर डॉक्टर के लिए आदर्श है। समाज में हो रहे परिवर्तनों का असर डॉक्टरों पर भी है। इसके बावजूद कोरोना संकट में डॉक्टरों ने अपने जान की बाजी लगाकर रोगियों का उपचार किया। कमिश्नर ने सभी डॉक्टरों को बधाई तथा शुभकामनाएं दीं।
कार्यक्रम में पुलिस उप महानिरीक्षक अनिल सिंह कुशवाह ने कहा कि पुलिस तथा डॉक्टर दोनों आपातकालीन सेवाएं देते हैं। दोनों के लिए कठिनाईयां और चुनौतियां हैं। इसके बावजूद पुलिस और डॉक्टर दोनों अपनी-अपनी भूमिका अच्छे से निभा रहे हैं। कोरोना संकट में डॉक्टरों का सेवा भाव सराहनीय रहा। कार्यक्रम में कलेक्टर इलैयाराजा टी ने कहा कि डॉक्टर को समाज में बहुत सम्मानजनक स्थान प्राप्त है। डॉक्टर रोगी को नया जीवन देता है। वर्तमान काल मानव सभ्यता का स्वर्णकाल है। मेडिकल साइंस ने पहले की तुलना में बहुत अधिक विकास किया है। सही मायनों में डॉक्टरों द्वारा की जा रही सेवा और उपचार से मानव जाति का अस्तित्व पृथ्वी पर बना हुआ है। रीवा में कोरोना संकट से निपटने में डॉक्टरों ने न केवल मन बल्कि दिल से सेवाएं दी हैं जिसके कारण हम आज बहुत सुखद स्थिति में हैं।
कार्यक्रम में मेडिकल कालेज के डीन डॉ. एपीएस गहरवार ने कहा कि डॉक्टर्स डे हम सबको एक डॉक्टर के रूप में अपने कत्र्तव्यों और सेवा भाव की याद दिलाता है। कोरोना संकट से निपटने में पूरे समाज के साथ डॉक्टरों ने प्रयास किया है। इस संकट से भी हम उबरेंगे। कार्यक्रम में डॉ. संजीव शुक्ला, डॉ. अनंत मिश्रा संयुक्त संचालक तथा डॉ. मनोज इंदुलकर ने भी अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आरएस पाण्डेय ने स्वागत उद्बोधन दिया। कार्यक्रम में कमिश्नर श्री जैन ने कोरोना संकट में बेहतर चिकित्सा सेवाएं देने के लिए मेडिकल कालेज के डीन डॉ. एपीएस गहरवार, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आरएस पाण्डेय, डॉ. मनोज इंदुलकर सहित विभिन्न डॉक्टरों तथा चिकित्सा अधिकारियों को सम्मानित किया। कार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक राकेश सिंह, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी स्वप्निल वानखेड़े, डिप्टी कलेक्टर राहुल नायक तथा मेडिकल कालेज के प्राध्यापकगण एवं चिकित्सक उपस्थित रहे।

Check Also

 सीएम शिवराज ने लॉकडाउन की खबर को बताया निराधार, बोले पॉजीटिव प्रकरण की वजह को ही समाप्त करें

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोविड-19 के नियंत्रण के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)